CCI ऑसीलेटर– Commodity Channel Index – परिभाषाएँ और उपयोग

CCI oscillator aka Commondity Channel Index Definition and Uses

English Indonesia Tiếng Việt

Commodity Channel Index(CCI) को डोनाल्ड लैम्बर्ट ने 1980 में विकसित किया था| उन्होंने इसे कमोडिटी में साइक्लिक टर्नओवर सुनिश्चित करने के लिए बनाया था, लेकिन बाद में लोगों को पता चला कि यह इंडेक्स, ETF, स्टॉक और अन्य सिक्योरिटी के तकनीकी विश्लेषण के लिए भी उपयोगी है|

CCI एक वर्सटाइल मोमेंटम ऑसीलेटर है जो ओवरबॉट और ओवरसोल्ड स्तरों की पहचान करता है| तकनीकी रूप से, CCI दिए गए सत्रों के औसत मूल्य के सापेक्ष में वर्तमान के समापन कीमत को मापता है| ट्रेडर बाजार के वर्तमान ट्रेंड और रिवर्जन सिग्नल को देख सकते हैं|

CCI सांख्यिकीय मानक विचलन की तुलना में औसत की गणना करता है। CCI गणना सूत्र -300 से +300 तक के मान उत्पन्न करता है।

रजिस्टर Olymp Trade और निशुल्क $ 10,000 प्राप्त करें Newbies के लिए $ 10,000 मुफ्त पाएं

CCI सूत्र

ग्राफ के प्रत्येक बिंदु की गणना निम्नानुसार की जाएगी:

  • औसत कीमत = (समापन कीमत + पीक पर कीमत+ बॉटम पर कीमत) / 3
  • CCI = (औसत कीमत – SMA (औसत कीमत)) / (0.015 + मानक विचलन)

सबसे अच्छे परिणाम के लिए सत्रों की संख्या 14 या 20 रखनी चाहिए|

CCI ऑसीलेटर की क्रियाविधि

ऑसीलेटर आमतौर पर -100 से 100 के बीच स्थिर होता है| इस जोन में, ट्रेंड स्पष्ट नहीं होता है, शून्य रेखा के बहुत करीब होता है| ऊपर दिए गए सूत्र के अनुसार, 100 से ऊपर का कोई भी विचलन ओवरबॉट/ओवरसोल्ड माना जाता है| +100 से ऊपर का क्षेत्र ओवरबॉट और -100 से नीचे का क्षेत्र ओवरसोल्ड कहलाता है|

ओवरबॉट और ओवरसोल्ड क्षेत्र आपको बताते हैं कि कीमतें विकास की विशेष दिशा में एक संपन्न क्षेत्र में प्रवेश कर रही हैं। लेकिन किसी भी करेंसी, स्टॉक या वर्चुअल करेंसी को विकसित होने एक लंबा समय लगेगा| इसलिए, तकनीकी विश्लेषण के लिए CCI उस सिग्नल का उपयोग करते हैं जो कीमत के स्थिर होते समय मिलता है|

CCI ऑसीलेटर का उपयोग कैसे करें

Commodity Channel Index (CCI) का उपयोग एक सहायक या मुख्य इंडिकेटर के रूप में किया जा सकता है| सहायक इंडिकेटर के रूप में, +100 को पार करने पर यह अपट्रेंड की शुरुआत दिखाता है| -100 से नीचे जाने पर डाउनट्रेंड की शुरुआत दिखाता है|

मुख्य इंडिकेटर के रूप में, ट्रेडरों को सकारात्मक रिवर्सल की सूचना देने वाले ओवरबॉट या ओवरसोल्ड क्षेत्रों को ढूँढना चाहिए| इसी तरह, डाइवर्जेंस और कन्वर्जेन्स का उपयोग पहले के मोमेंटम का पता लगाने और ट्रेंड रिवर्सल का पूर्वानुमान लगाने के लिए किया जा सकता है|

वर्तमान कीमतों से तुलना करने पर ऑसीलेट करने वाले इंडिकेटर अक्सर देरी की समस्या का सामना करते हैं| लेकिन CCI इंडिकेटर बाजार की अपडेट देने बहुत कम देरी लगाता है| इसलिए अन्य शून्य-विलंबता वाले इंडिकेटरों के साथ CCI को मिलाने से बाजार का अपेक्षा से भी बेहतर विश्लेषण मिलता है|

रजिस्टर Olymp Trade और निशुल्क $ 10,000 प्राप्त करें Newbies के लिए $ 10,000 मुफ्त पाएं

CCI के स्थिर जोन में लौटने पर रिवर्सल सिग्नल

-100 से +100 तक स्थिर जोन होता है| इस क्षेत्र में घूमते हुए CCI से यह पता नहीं लगाया जा सकता कि कीमत रिवर्स होगी या नहीं| लेकिन यदि CCI -100 से नीचे या +100 (विशेषतः +150 से ऊपर, -150 से नीचे) से ऊपर जाकर स्थिर जोन में लौटता है तो यह रिवर्सल का मजबूत सिग्नल है|

CCI oscillator get back stable zone from overbought oversold is the signal of reversion
CCI ऑसीलेटर का ओवरबॉट ओवरसोल्ड से स्थिर जोन में लौटना रिवर्जन का संकेत है

CCI सिग्नल को दूसरे इंडिकेटरों के साथ मिलाएं और अपने ट्रेडों से लाभ कमाने के लिए ऑर्डर लगाएँ|

CCI इंडिकेटर के डाइवर्ज होने पर रिवर्सल सिग्नल

एक डाइवर्जिंग स्थिति बनाते हुए जब प्राइस चार्ट ऊपर जाता है लेकिन CCI चार्ट नीचे जाता है, तो इसे CCI डाइवर्जेंस कहते हैं| अब आपको मानना होगा कि वर्तमान ट्रेंड अस्थायी है और शीघ्र ही नीचे जाने वाला है| सिग्नल कीमतों के नीचे जाने का संकेत देता है| हालाँकि सटीकता बढ़ाने के लिए आपको इसे अन्य इंडिकेटरों के साथ मिलाना चाहिए|

CCI oscillator, the divergence sign a reversion (picture from Olymp Trade)
CCI ऑसीलेटर, रिवर्जन का डाइवर्जिंग संकेत (Olymp Trade से एक फोटो)

CCI ऑसीलेटर के कनवर्ज होने पर रिवर्सल सिग्नल

जब प्राइस चार्ट नीचे जाता है और CCI चार्ट ऊपर जाता है, दोनों एक दूसरे की तरफ आते हुए दिखते हैं, तब इसे CCI कन्वर्जेन्स कहते हैं| इंडिकेटर दिखाता है कि ट्रेंड गति पकड़ रहा है, लेकिन एसेट गिर रहे हैं, और शीघ्र ही कीमत बॉटम तक गिर जाएगी और अपट्रेंड लौट आएगा| इस सिग्नल को देखते ही आपको ट्रेड लगा देना चाहिए|

Instructions for using CCI indicator, convergence of price signals about to grow (Olymp Trade)
CCI इंडिकेटर उपयोग करने के निर्देश, प्राइस सिग्नल का कन्वर्जेन्स बढ़ने वाला है (Olymp Trade)

सूचना

कृपया न भूलें कि कोई भी इंडिकेटर बाजार का विश्लेषण करने के लिए केवल सिग्नल दे सकता है| यदि आपके पास अधिक सिग्नल होंगे, अधिक अनुभव होगा, तो आप चुकेंगे नहीं| अधिक ट्रेडिंग अनुभव होने पर आप किसी भी अनापेक्षित परिस्थिति से निपट सकते हैं| तो CCI को SMA, EMA, MACD, Finabocci, Zigzag, DeM, William%R, Stochastic, Bulls Power & Bears Power, Support & Resistance, RSI, Bollinger Bands, PSAR,…जैसे दूसरे इंडिकेटरों के साथ मिलाकर अभ्यास करें|

English Indonesia Tiếng Việt

CCI ऑसीलेटर– Commodity Channel Index – परिभाषाएँ और उपयोग
4.1 (82%) 52 reviews

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here