Stochastic ऑसीलेटर – एक सटीक रिवर्स इंडिकेटर

Stochastic Oscillator definition

English Indonesia Tiếng Việt

Stochastic ऑसीलेटर

एक ऑसीलेटर है जो एक तय अवधि में उच्चतम और निम्नतम स्तर के बीच एसेट की कीमत का उतार-चढ़ाव मापता है| रिसर्च से साबित हुआ है कि कीमत के रिवर्स होने का पूर्वानुमान लगाने में यह काफी प्रभावशाली है|

Stochastic ऑसीलेटर %K और %D 2 रेखाओं का बना होता है जो 0 से 100 के बीच में घूमती हैं|

रजिस्टर Olymp Trade और निशुल्क $ 10,000 प्राप्त करें Newbies के लिए $ 10,000 मुफ्त पाएं

अन्य ऑसीलेटरों की तरह ही %K और %D रेखाएँ तीन क्षेत्रों में उतार-चढ़ाव करती हैं:

  • 0 – 25: ओवरबॉट क्षेत्र, क्योंकि कीमत गिर रही है और बाजार में खरीद की संख्या तेजी से बढ़ रही है| विक्रेता मुनाफा लेने और बाज़ार में स्थिरता लाने के लिए कीमत बढ़ा देगा| इस समय यह अनुमान लगाएं कि कीमतों में वृद्धि होने वाली है|
  • 25 – 75: स्थिर क्षेत्र, जब इस क्षेत्र में %D और %K होते हैं, तो बाज़ार का अनुमान लगाना असंभव होता है|
  • 75 – 100: ओवरसोल्ड क्षेत्र ओवरबॉट क्षेत्र के बिल्कुल विपरीत होता है| बहुत उच्च स्तर तक कीमतों में वृद्धि होने पर, निवेशकों ने निर्णय लिया कि अब कीमतों में वृद्धि नहीं होगी और मुनाफा निकालने का निर्णय लिया| इससे बाज़ार में कीमतों पर प्रभाव पड़ता है, जैसा कि उम्मीद थी इस समय कीमतों में गिरावट आने लगती है|

Stochastic सूत्र

नीचे दिए गए सूत्र को देखते ही, आप Stochastic ऑसीलेटर का मतलब समझ जाएंगे:

% K = [[CLOSE – LOW (n)] / [HIGH (n) – LOW (n)]] * 100%

% D = SMA (% K, n)

जहां:

  • CLOSE वर्तमान समापन मूल्य है
  • n STO ऑसीलेटर के लिए निर्धारित ट्रेडिंग सत्रों की संख्या है| आमतौर पर इसका मान है n = 14.
  • LOW (n) पिछले n सत्रों में सबसे न्यूनतम मूल्य बिंदु है (CLOSE को छोड़कर) |
  • HIGH (n) पिछले n सत्रों में सबसे उच्चतम मूल्य बिंदु है (CLOSE को छोड़कर) |

ध्यान रखें कि LOW और HIGH, n सत्रों के न्यूनतम और उच्चतम बिंदु हैं, न कि CLOSE के|

इस फार्मूला को देखकर, हम आसानी से उस सिग्नल की पहचान कर सकते हैं जो CLOSE मूल्य और HIGH (n) के बीच बहुत अधिक अंतर होने पर सामने आता है|

Stochastic ऑसीलेटर का उपयोग कैसे करें

खरीदने के सिग्नल

0-25 के जोन में घूमते हुए %K रेखा %D रेखा को काटती है, यह सिग्नल कीमत के रिवर्स होकर बढ़ने और फिर स्थिर जोन में जाने का है| इस बिंदु पर, आपको खरीदने पर विचार करना चाहिए|

बेचने के सिग्नल

इसके विपरीत, 75-100 के जोन में घूमते हुए %K रेखा %D रेखा को काटती है, यह सिग्नल ऊपर से नीचे की तरफ रिवर्स होगा| इस बिंदु पर, आपको बेचकर लाभ कमाना चाहिए|

The Stochastic oscillator signals
Stochastic ऑसीलेटर सिग्नल

दूसरे इंडिकेटरों के साथ संयोजन

खरीदने और बेचने का समय निश्चित करने के लिए SMA, EMA, MACD जैसे इंडिकेटरों का समर्थन करने के लिए Stochastic बहुत बढ़िया है| स्टॉक मार्केट, करेंसी, वर्चुअल करेंसी में ट्रेडिंग के लिए एक बढ़िया संयोजन काफी सहायक होता है|

English Indonesia Tiếng Việt

Stochastic ऑसीलेटर – एक सटीक रिवर्स इंडिकेटर
4.1 (82%) 41 reviews

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here